दर्द भरे स्टेटस हिंदी में दर्द शायरी 2 लाइन दर्द शायरी लव.

By | जनवरी 22, 2022

आज के इस पोस्ट में दर्द भरे स्टेटस हिंदी में  आपके साथ साझा करने वाले हैं.  जिंदगी में कठिनाई सबको आती है या पहले या बाद में.  लेकिन कठिनाई और दर्द  सबको एक दिन आता ही है.  इस दर्द भरे  मुश्किल लोगों के साथ साझा करना काफी अनिवार्य हो जाता है.  जब आप अपना दर्द या दुख दूसरों के साथ साझा करते हो तब आपको ऐसा महसूस होता है कि आपका दर्द और  दुख कम होने का अनुभव होता है. 

 इसी कारण मैं आप लोगों के साथ 2 लाइन शायरी इन हिंदी  साझा करने.  अपना दर्द को लोगों के साथ जितना हो सके  उतना साजा.  दर्द और कष्ट कभी भी दिल और दिमाग पर हावी नहीं होना चाहिए.  कहते हैं ना, जितना ज्यादा me आप kitna चुप रहोगे या माउन रहोगे आपने कष्ट को लेकर आप की दुविधा है उतना ही मजबूत होते जाएंगे. 

 अगर आपकी  गर्लफ्रेंड हैं  और उससे आपका ब्रेकअप हो गया  तब तो आपके लिए बिछड ने पर मर जाऊंगा दर्द शायरी 2 लाइन  जबरदस्त सूट. करेगा..  जिंदगी में है क्या,  इंसान जीता है 80 से 70 साल.  उसने भी इंसान दुनिया भर का दर्द पालकर जीता है.  तभी कम होगा जब आप  अपने आप से यह प्रश्न पूछोगे कि  इस दर्द से बाहर कैसे निकलोगे.  मैं अपना दर्द शायरी  आपके साथ साझा करने वाला हूं.  आपको काफी पसंद आने वाला है दिल शायरी 2 लाइन.  मैं जब भी अकेला महसूस करता हूं तो मैं दर्द भरी शायरी स्टेटस नहीं padhta.  क्योंकि अकेले महसूस करते वक्त मुझे लगता है मीठा दर्द शायरी  इसके मुकाबले अच्छा रहेगा क्योंकि इससे मेरा मन शांत रहेगा.  मेरा जबसे मेरी गर्लफ्रेंड के साथ ब्रेकअप हो गया था तब से मुझे यह दर्द  छोड़ नहीं रहा. तब से मैं भी दर्द शायरी लव  अपनी फेसबुक व्हाट्सएप स्टेटस पर लगाकर घूमते फिरते रहता हूं. 

दर्द भरे स्टेटस हिंदी में दर्द शायरी 2 लाइन दर्द शायरी लव

दर्द भरे स्टेटस हिंदी में दर्द शायरी 2 लाइन दर्द शायरी लव.

आपके लिए हमने दर्द भरी शायरी साझा किया है, इनमें से आपको जो भी पसंद आएगा उन्हें आप फेसबुक व्हाट्सएप इंस्टाग्राम में उपयोग कर सकते हैं.

दर्द भरे स्टेटस हिंदी दर्द शायरी 2 लाइन

वो करते है मोहब्बत की बात,
लेकिन मोहब्बत के दर्द का उन्हें एहसास नही,
मोहब्बत तो वो चाँद है जो दिखता तो है सबको,
लेकिन उसको पाना सबके बस की बात नही।

हर बात में आँसू बहाया नही करते,
हर बात दिल की हर किसी से कहा नही करते,
ये नमक का शहर है,
इसलिए ज़ख्म यहाँ हर किसी को दिखाया नही करते।

जब तक दर्द न हो किसी के आंसू आया नही करते,
बिना वजह किसी का दिल दुखाया नही करते,
ये बात सुन लो कान खोल कर,
किसी के सपने तोड़ कर अपने सपने सजाया नही करते।

जरूरी नही जीने के लिए सहारा हो,
जरूरी नही जिसे हम अपना माने वो हमारा हो,
कई कस्तियां बीच भबर में डूब जाया करती हैं,
जरूरी नही हर कस्ती को किनारा हो।

गम कितना है हम आपको दिखा नही सकते है,
ज़ख्म कितने गहरे है ये आपको दिखा नही सकते है,
जरा हमारे इन आंसुओ को तो देख लो,
ये आंसू गिरे है कितने ये हम आपको गिना नही सकते है।

अब तो हम दर्द से खेलना सीख गये है,
अब तो हम वेबफाई के साथ जीना सीख गये है,
क्या बताये यारो की कितना दिल टूटा है हमारा,
अब तो हम मौत से पहले कफ़न ओढ़ कर सोना सीख गये है।

ये वक्त बदला और बदली ये कहानी है,
अब तो बस मेरे पास उनकी यादें पुरानी है,
न लगाओ मेरे ज़ख्मो पे मरहम,
क्योंकि मेरे पास बस उनकी यही बची हुई निशानी है।

मुझे जिसने जिंदगी दी, वो मरता छोड़ गये,
जिससे मोहब्बत की वो मुझे तन्हा छोड़ गये,
थी हमे भी एक हमसफ़र साथ चलने को जरूरत,
जो साथ चलने बाले थे वही रास्ता मोड़ गये।

सोचा था तड़पायेंगे हम उन्हें,
किसी और का नाम लेके जलायेगें उन्हें,
फिर सोचा मैंने उन्हें तड़पाके दर्द मुझको ही होगा,
तो फिर भला किस तरह सताए हम उन्हें

दिन हुआ है, तो रात भी होगी,
मत हो उदास, उससे कभी बात भी होगी।
वो प्यार है ही इतना प्यारा,
ज़िंदगी रही तो मुलाकात भी होगी।

वो बिछड़ के हमसे ये दूरियां कर गई,
न जाने क्यों ये मोहब्बत अधूरी कर गई,
अब हमे तन्हाइयां चुभती है तो क्या हुआ,
कम से कम उसकी सारी तमन्नाएं तो पूरी हो गई।

अब तो वफ़ा करने से मुकर जाता है दिल,
अब तो इश्क के नाम से डर जाता है दिल,
अब किसी दिलासे की जरूरत नही है,
क्योंकि अब हर दिलासे से भर गया है दिल।

चिंगारी का ख़ौफ़ न दिया करो हमे,
हम अपने दिल में दरिया बहाय बैठे है,
अरे हम तो कब का जल गये होते इस आग में,
लेकिन हमतो खुद को आंसुओ में भिगोये बैठे है।

इंसान की ख़ामोशी ही काफ़ी है,
ये बताने के लिये की वो अंदर से टूट चूका है।

कोई मिला ही नही हमे कभी हमारा बन कर,
वो मिला भी तो हमे सिर्फ किनारा बनकर,
हर ख्वाब बन कर टुटा है यहां,
अब बस इंतज़ार ही मिला है एक सहारा बन कर।

हम तो ख्वाबो की दुनिया में बस खोते गये,
होश तो था फिर भी मदहोश होते गये,
उस अजनबी चेहरे में क्या जादू था,
न जाने क्यों हम उसके होते गये।

वफ़ा का दरिया कभी रुकता नही,
मोहब्बत में प्रेमी कभी झुकता नही,
किसी की खुशियों के खातिर चुप है,
पर तू ये न समझना की मुझे दुःखता नही।

तेरा यूँ मेरे सपनो में आना ये तेरा कसूर था,
और तुझ से दिल लगाना ये मेरा कसूर था,
कोई आया था पल दो पल को जिंदगी में,
और सर अपना समझ लेना वो मेरा कसूर था।

जब कोई ख्याल इस दिल से टकराता है,
तो दिल न चाहते हुए भी खामोश हो जाता है,
कोई सब कुछ कह कर भी कुछ नही कह पाता है,
और कोई बिना कुछ कह भी सब कुछ कह जाता है।

होले होले कोई याद आया करता है,
कोई मेरी हर साँसों को महकाया करता है,
उस अजनबी का हर पल शुक्रिया अदा करते हैं,
जो इस नाचीज़ को मोहब्बत सिखाया करता है।

अब तेरे बिना जिंदगी गुजारना मुमकिन नही है,

अब और किसी को इस दिल में बसाना आसान नही है,

हम तो तेरे पास कब के चले आये होते सब कुछ छोड़ कर,

लेकिन तूने कभी हमे दिल से पुकारा ही नही है।

मंजिल भी उसकी थी, रास्ता भी उसका था,
एक मैं ही अकेला था, बाकि सारा काफिला भी उसका था,
एक साथ चलने की सोच भी उसकी थी,
और बाद में रास्ता बदलने का फैसला भी उसी का था।

अब मोहब्बत नही रही इस जमाने में,
क्योंकि लोग अब मोहब्बत नही मज़ाक किया करते है इस जमाने में।

दर्द शायरी 2 लाइन

शायरी 2 लाइन टू लाइन स्टेटस पढ़ने के लिए इस पोस्ट को क्लिक करें, इसमें हमने 2 लाइन वन लाइन स्टेटस साझा किया है.

दर्द शायरी लव

Humare aansu wo jaan na sake,
Mohobbat ki kahani wo maan na sake,
Kaha tha unhone marne k baad b yaad karenge,
Jeete jee to wo yaad kar na sake.

ख्वाहिशों का मोहल्ला बहुत बड़ा होता है,
बेहतर है हम जरूरतों की गली में मुड़ जाएं।

आग दिल में लगी जब वो खफा हुए महसूस हुआ तब जब वो जुदा हुए💔 करके वफ़ा कुछ दे ना सकें वो पर बहुत कुछ दे गए जब वो बेवफा हुए।💔 💔

रख हौसला, वो मंज़र भी आएगा।
प्यासे के पास चल के, समंदर भी आयेंगा।
थक कर ना बैठ, ए मंजिल के मुसाफिर।
मंजिल भी मिलेगी और मिलने का मज़ा भी आयेंगा।

वो निकल गए मेरे रास्ते से इस कदर कि जैसे कि वो मुझे पहचानते ही नहीं कितने ज़ख्म खाए हैं मेरे इस दिल ने फिर भी हम उस बेवफ़ा को बेवफ़ा मानते ही नहीं।💔 😢

वो जो कहता था_की तुम न मिले तो मर जाएंगे हम ,,
वो आज भी जिन्दा है, ये बात किसी और से कहने के लिए.

कभी करीब तो कभी जुदा था तू जाने किस-किस से ख़फ़ा है तू मुझे तो तुझ पर खुद से ज्यादा यकीन था पर ज़माना सच ही कहता था कि बेवफ़ा है तू।😭😭

शर्मिंदा करते हो रोज, हाल हमारा पूँछ कर ,
हाल हमारा वही है जो तुमने बना रखा है…

क्या खूब रंग दिखाती है जिंदगी क्या इक्तेफ़ाक होता है,
प्यार में ऊम्र नही होती पर…. हर ऊम्र में प्यार होता है|

कल तक सिर्फ़ एक अजनबी थे तुम,
आज दिल की एक एक धड़कन पर हुकूमत है तुम्हारी

हमेँ कँहा मालूम था क़ि इश्क़ होता क्या है,
बस एक ‘तुम’ मिले और ज़िन्दगी मुहब्बत बन गई.

वो रोई जरूर होगी खाली कागज़ देखकर ,,
ज़िन्दगी कैसी बीत रही है, पुछा था उसने…..

भुला देंगे हम अपना गम सारा! मिला दे रब जो हमको तुमसे दोबारा।😐 😢 😭

कोई भी नहीं यहाँ पर अपना होता इस दुनिया ने ये सिखाया है हमको उसकी बेवफाई 💔 का ना चर्चा करना आज दिल ने ये समझाया है हमको💔 😢

क्या पता था कि महोब्बत ही हो जायेगी,
हमें तो बस तेरा मुस्कुराना अच्छा लगा था

किसी को तलाशते तलाशते खुद को खो देना,
आंसा है क्या आशिक हो जाना।

उनके आने से आ जाती है मेरे चेहरे पे रौनक ,,
और वो समझते हैं कि मेरा हाल अच्छा है…

फिर नींद से जाग कर इधर उधर ढूनडता हूँ तुम्हे
क्यूँ के ख्वाब में इतने करीब चले आते हो तुम…

आजकल लोग <प्यार> को क्या क्या नाम देते हैं,
पर हम तो इन <धड़कनो> को ही तुम्हारे <नाम> कर देते हैं..!

ज़ूलफ़े तेरी बिखरी बिखरी और आँचल भी सर से सरका
देख के तेरा यौवन गोरी तब दिल मेरा भी बहका

तेरी मोहब्बत को कभी खेल नही समझा,
वरना खेल तो इतने खेले है कि कभी हारे नही।.

जाने लोग मोहब्बत को क्या क्या नाम देते है,
हम तो तेरे नाम को ही मोहब्बत कहते है !

जब महसूस हो कि सारा शहर तुमसे जलने लगा है…
समझ लेना तुम्हारा नाम चलने लगा है.!!!

काश ! बचपन में तुझे मांग लेते ,,
हर चीज़ मिल जाती थी, दो आँसू बहाने से…

अफवाह थी कि मुझे इश्क हुआ है ..
लोगों ने पूछ पूछ कर आशिक बना दिया…..

अपना ख्याल रखा करो मेरे लिए,
बेशक़ सांसे तुम्हारी चलती है लेकिन तुम में जान तो हमारी बस्ती है.

ताज्जुब है तेरी गहरी मुहब्बत पर, तू हमारी रूह में, और हम तेरे वहम ओ गुमान में भी नही.

वो पानी की लहरों पे क्या लिख रहा था खुदा जाने हरफ-ऐ-दुआ लिख रहा था महोब्बत में मिली थी नफरत उसे भी शायद इसलिए हर शख्स को शायद बेवफा लिख रहा था।😭 💔 😢

इतनी तो तेरी सूरत भी नहीं देखी मैने ,,
जितना तेरे इंतज़ार में घड़ी देखी है ..

हम अपनी रूह तो तेरे जिस्म से ही छोड़ आए थे,
तुझे गले से लगाया तो महज़ एक बहाना था!

umne Bhi Kisi Se Pyar
Kiya Tha…
Hatho Me Phool Lekar
Intezarr Kiya Tha…
Bhul Unki Nahi Bhul Toh
Humari Thi…
Kyon Ki Unho Ne Nahi,
Humne Unse Pyar Kiya Tha…!!

बस यही सबूत है मोहब्बत हमारी वफ़ा का, जब भी किया उसने कोई वादा हमने ऐतबार कर लिया.😐 😢 😭

उसके चेहरे पर इस कदर नूर था कि उसकी याद में रोना😭 भी मंज़ूर था बेवफ़ा भी नहीं कह सकते उसको फराज़.

रोज़ आता है मेरे दिल को तस्सली देने ख़याल ऐ यार को मेरा खयाल कितना है.😢 💔 😒

Jisne kabhi chahton ka paigaam likha tha,
Jisne apna sab kuch mere naam likha tha,
Suna hai aaj use mere zikr se bhi nafrat hai,
Jisne kabhi apne dil par mera naam likha tha.

वफ़ा पर हमने घर लुटाना था लेकिन, वफ़ा लौट गयी लुटाने से पहले, चिराग तमन्ना का जला तो दिया था, मगर बुझ गया जगमगाने से पहले.😢 💔 😢 😢

राइटररिया
Website | + posts

मैं एक फ्रीलांसर हूं और मैं यहां काम कर रही हूं मुझे आर्टिकल लिखना काफी पसंद है। मेरी लिखी हुई आर्टिकल कई सारे बड़े वेबसाइट पर पब्लिश है। मुझे ज्यादा टेक्नॉलजी ओर reviews जैसे आर्टिकल लिखना पसंद है।

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.