मधुमेह क्या है मधुमेह कितने प्रकार का होता है.

मधुमेह को हम डायबिटीज के नाम से भी जाना जाता हैं,  हर साल मधुमेह से हजारों लोग की मृत्यु हो जाती है और इसका मुख्य कारण है खानपान का ध्यान न देना।  मधुमेह से आपके शरीर को नुकसान पहुंचाने के साथ-साथ आपके मानसिक और शारीरिक में भी  चोट पहुंचाता है। 

मधुमेह क्या है मधुमेह कितने प्रकार का होता है.

वैसे तो मधुमेह एक आम बीमारी तो है ही लेकिन एक  महामारी  रोग का धारण कर रही है।  एक रिसर्च के अनुसार 100 में से 40 लोगों को डायबिटीज की बीमारी  से संक्रमित है। लेकिन जब मधुमेह को हम नजरअंदाज करते हैं तब यह खतरनाक रूप ले लेता है।  समय-समय पर मधुमेह का परीक्षण करना अनिवार्य है।  मधुमेह से आपका शरीर में किडनी, आंखों में , और शरीर में कमजोरी आ जाता है।  अगर मधुमेह को सही समय पर इलाज नहीं करें तो कई शरीर में कई अंगों को क्षतिग्रस्त कर सकता है। 

क्या है मधुमेह?

शरीर में जब पैंक्रियाज में इंसुलिन (Insuline) का पहुंचना कम हो जाता है, तो ब्लड में ग्लूकोज का स्तर बढ़ जाता है। इसी स्थिति को डायबिटीज कहते हैं। इंसुलिन एक हार्मोन (Harmone) है। यह पाचक ग्रंथि द्वारा बनता है। इसका काम शरीर के अंदर भोजन को एनर्जी में बदलने का है। इसी हार्मोन से हमारे शरीर में शुगर की मात्रा कंट्रोल होती है। डायबिटीज की समस्या होने पर शरीर को भोजन से एनर्जी बनाने में कठिनाई का सामना करना पड़ता है। इस स्थिति में ग्लूकोज का बढ़ा हुआ स्तर, शरीर में विभिन्न अंगों को नुकसान पहुंचाता है।

मधुमेह तीन प्रकार का होता है। :

टाइप 1– मधुमेह, जिसे किशोर-शुरुआत मधुमेह भी कहा जाता है, मुख्य रूप से बच्चों और किशोरों में पाया जाता है।

कारण: जब शरीर एंटीबॉडी के साथ अपने PANCREATITIS पर हमला करता है, जिससे अग्न्याशय को नुकसान पहुंचता है और परिणामस्वरूप इंसुलिन का उत्पादन करने में असमर्थ होती है। एक अन्य कारण दोषपूर्ण  कोशिकाओं की उपस्थिति के कारण हो सकता है- वह  अग्न्याशय से इंसुलिन का उत्पादन करने की आवश्यकता होती है। यही कारण है कि टाइप 1 मधुमेह को पूरी तरह से इंसुलिन पर निर्भर माना जाता है और इसे केवल इंजेक्शन या इंसुलिन पंप के माध्यम से ठीक किया जा सकता है।

टाइप 2– मधुमेह का दूसरा  रूप टाइप 2 है । 95% से अधिक वयस्कों में टाइप 2 पाया जाता है, अगर ठीक से इलाज न किया जाए तो स्वास्थ्य संबंधी बड़ी समस्याएं पैदा होती हैं।

कारण: टाइप 2 के साथ, अग्न्याशय इंसुलिन का उत्पादन करता है लेकिन पर्याप्त मात्रा में नहीं या उत्पादित इंसुलिन शरीर की कोशिकाओं द्वारा आकर्षित हो जाता है। यह मुख्य रूप से उन लोगों में होता है जो मोटे होते हैं और उनमें इंसुलिन प्रतिरोध होता है। टाइप 2 को टाइप 1 के लिए कम जटिल और आक्रामक कहा जाता है, लेकिन फिर भी, किसी भी रूप में मधुमेह खतरनाक हो सकता है, अगर दवा द्वारा नियंत्रित नहीं किया जाता है और इससे मृत्यु हो सकती है।

टाइप 3- गर्भकालीन मधुमेह मधुमेह का अंतिम रूप गर्भवती महिलाओं में होता है, ज्यादातर उनके मध्य से अंतिम अवस्था में।

कारण: हार्मोनल परिवर्तन और गर्भावस्था की चयापचय संबंधी मांगों के साथ-साथ आनुवंशिक और पर्यावरणीय कारकों के कारण। लेकिन अच्छी खबर यह है कि इस प्रकार की मधुमेह केवल अस्थायी है और गर्भावस्था के बाद दूर हो जाएगी। हालांकि, अध्ययनों से पता चलता है कि गर्भावधि मधुमेह से पीड़ित लगभग 10% महिलाओं को बच्चे के जन्म के बाद बाद में टाइप 2 मधुमेह हो जाता है।

👮

इन्हे बिजनेस और टेक्नोलॉजी, Movies के बारे में लिखना काफी पसंद है। इन्होंने B.tech और MBA किया है, इनकी लिखी हुई लेख कई अच्छे बड़े वेबसाइट पर प्रकाशित हुई है, ओर 6 साल का experience है अभी ये एक freelance के तौर पर यहां काम कर रही है .

Category: Health

About 👮‍♀️राइटररिया

इन्हे बिजनेस और टेक्नोलॉजी, Movies के बारे में लिखना काफी पसंद है। इन्होंने B.tech और MBA किया है, इनकी लिखी हुई लेख कई अच्छे बड़े वेबसाइट पर प्रकाशित हुई है, ओर 6 साल का experience है अभी ये एक freelance के तौर पर यहां काम कर रही है .

One thought on “मधुमेह क्या है मधुमेह कितने प्रकार का होता है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *